नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन (National Digital Health Mission), 15 अगस्त को पीएम द्वारा हुआ एलान

केंद्र की मोदी सरकार One Nation One Ration Card के तर्ज पर अब One Nation One Health Card लाने की तैयारी कर रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 15 अगस्त को राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन (National Digital Health Mission) का हुआ एलान.

National Digital Health Mission, नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डिजिटल हेल्थ मिशन
National Digital Health Mission (NDHM)

National Digital Health Mission (NDHM)
के तहत देश के प्रत्येक नागरिक की पर्सनल हेल्थ आईडी बनाई जाएगी. इस आईडी में उनके स्‍वास्‍थ्‍य का पूरा ब्‍योरा होगा साथ ही स्वास्थ्य संबंधी रिकॉर्डों का डिजिटलीकरण होगा. देशभर में डॉक्‍टरों और स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं की भी रजिस्‍ट्री होगी. सरकारी सूत्रों के अनुसार, इस स्‍कीम के प्रस्ताव को कैबिनेट से सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई है. अंतिम मंजूरी इस हफ्ते के आखिर तक मिल सकती है.


क्या है One Nation One Health?

सरकार की One Nation One Health Scheme के जरिए देश के सभी नागरिकों को एक हेल्थ कार्ड बनवाना होगा. इससे होने वाले ट्रिटमेंट और टेस्ट की पूरी जानकारी इस Health ID में डिजिटली सेव कर दी जाएगी. जिससे इसका रिकॉर्ड रखा जा सकेगा. इसका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि देश में किसी भी हॉस्पिटल या डॉक्टर के पास जब इलाज कराने जाएंगे तो साथ में आपको सारे पर्चे और टेस्ट रिपोर्ट नहीं ले जाना पड़ेगा. डॉक्टर कहीं से भी बैठकर आपकी यूनिक आईडी के जरिए आपकी सारी मेडिकल हिस्ट्री देख सकेगा. 

National Digital Health Mission को चार प्रमुख फीचरों के साथ इस स्‍कीम को लॉन्च करने की योजना है. इनमें हेल्‍थ आईडी, पर्सनल हेल्‍थ रिकॉर्ड, डिजि डॉक्‍टर और हेल्‍थ फेसिलिटी रजिस्‍ट्री शामिली है. बाद के चरणों में इसमें ई-फार्मेसी और टेलीमेडिसिन सेवाओं को भी शामिल किया जाएगा. इसे लेकर रेगुलेटरी गाइडलाइंस को तैयार किया जा रहा है.


National Digital Health Mission Platform (NDHM App.)

National Digital Health Mission (NDHM) यह एक एप बेस्ड प्‍लेटफॉर्म एवम वॉलेंटरी होगा. एप में लोग अपनी इच्‍छा से एनरोल करेंगे. इसके लिए कोई दबाव नहीं बनाया जाएगा. लोगों की अनुमति के बाद ही हेल्‍थ रिकॉर्डों को साझा किया जाएगा. अस्पतालों और डॉक्टरों के लिए भी इस एप में अपनी डिटेल देना उन पर निर्भर करेगा. 


हेल्थ सेवाओं की क्षमता और पारदर्शिता बढ़ेगी


राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन (National Digital Health Mission) के लागू होने से हेल्थ सेवाओं की क्षमता और पारदर्शिता में बढ़ोतरी होगी. इस मिशन से भारत संयुक्‍त राष्‍ट्र के ग्‍लोबल हेल्थ कवरेज के लक्ष्य को भी हासिल करने की दिशा में तेजी से बढ़ेगा. NHA आयुष्‍मान भारत को लागू करने वाली एजेंसी है. इसी ने यह प्‍लेटफॉर्म तैयार किया है. यह एप और वेबसाइट दोनों प्रारूपों में उपलब्‍ध होगा.


वित्त मंत्रालय ने 470 करोड़ रुपये की दी मंजूरी


रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन (National Digital Health Mission) स्कीम की शुरुआत पहले देश के चुनिंदा राज्यों में की जाएगी और इसके बाद अलग-अलग चरणों में देशभर में लागू कर दिया जाएगा. इसके लिए वित्त मंत्रालय ने 470 करोड़ रुपये की मंजूरी भी दी है. इस योजना में हेल्थ आईडी धारकों के डाटा की गोपनीयता का पूरा ख्याल रखा जाएगा. उनकी मर्जी के बिना उनकी जानकारी किसी और को नही मिल पाएगी. लोगों के पास अपनी यूनीक हेल्‍थ आईडी को आधार के साथ लिंक करने का भी विकल्‍प होगा.


यह भी पढ़ें : Endowment Plan vs Money Back Plan (एंडोमेंट प्लान  और मनी बैक प्लान कौन सा चुने)

Finance, Investment, or Insurance की जानकारी प्राप्त करने के लिए इस साइट को फॉलो, सब्सक्राइब और कमेंट जरूर करे. यह जानकारी सभी के साथ शेयर करे……..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CHARLIE MUNGER, वॉरेन बफेट के विश्वसनीय सलाहकार के 6 यादगार कोट्स Fedbank IPO: Federal Bank की सहायक कंपनी का IPO IREDA IPO: Date, details और GMP जानिए भारत में सोने में निवेश के उपलब्ध 5 ऑप्शन. Dhanteras के दिन यह 5 चीजें जरूरखरीदना चाहिए, माने जाते है बहुत शुभ